KYC का Full Form क्या है?

KYC का Full Form क्या है?

KYC का Full Form क्या है?

KYC का फुल फॉर्म है Know Your Customer। KYC एक Company की विधि है जो ग्राहक की पहचान की पुष्टि करती है और आपराधिक इरादों से व्यावसायिक संबंधों के संभावित जोखिमों का आकलन करती है। नाम का उपयोग बैंकों पर विनियमों और Anti-money laundering नियमों से संबंधित होने के लिए भी किया जाता है जो इस तरह की गतिविधियों को नियंत्रित करते हैं। Reserve Bank of India ( RBI) ने वित्तीय धोखाधड़ी से बचने के लिए KYC Process को अपनाया, जैसे पहचान की चोरी, मनी लॉन्ड्रिंग और अवैध लेनदेन।


KYC Full Form- Know Your Customer

KYC Full Form In Hindi- Know Your Customer.


KYC guidelines बैंकों को धन शोधन गतिविधियों के लिए, जानबूझकर या अनैच्छिक रूप से आपराधिक Network का उपयोग करने से रोकने में मदद करते हैं। इसके अलावा, KYC Bank को Users और वित्तीय लेनदेन के साथ संवाद करने में मदद करता है। इससे उन्हें अपने जोखिमों को सावधानीपूर्वक संभालने में मदद मिलती है। आज KYC न केवल बैंकों द्वारा बल्कि विभिन्न Online Company द्वारा भी लागू किया जा सकता है।


RBI ने बैंकों को Account खोलने के दौरान KYC Process को लागू करने की सिफारिश की है। यह ग्राहकों को स्कैमर्स से बचाता है जो अपने नाम, पते और जाली संकेतों का उपयोग करके धोखाधड़ी गतिविधि कर सकते हैं। इसलिए, बैंकों और अन्य वित्तीय संस्थानों के ग्राहकों को प्रामाणिक जानकारी प्रदान करनी चाहिए ताकि बैंक ग्राहकों की संतुष्टि को पहचान सकें और उसमें सुधार कर सकें।


यहाँ एक आवश्यक दस्तावेज है जो पहचान प्रमाण और पते के प्रमाण के रूप में सेवारत है


पासपोर्ट

वोटर आई कार्ड

ड्राइविंग लाइसेंस

पैन कार्ड

आधार कार्ड

यदि आप जो दस्तावेज़ पहचान प्रमाण के लिए प्रदान करते हैं, उसमें पते का विवरण नहीं होता है, तो आप एक अन्य कानूनी रूप से वैध दस्तावेज भेज सकते हैं जिसमें पते का विवरण जैसे कि बिजली बिल, Telephone बिल, गैस बिल, आदि हो।


KYC का महत्व क्या है?

KYC आवश्यक है क्योंकि यह बैंकर को यह सुनिश्चित करने में मदद करता है कि अनुरोध और अन्य विवरण वास्तविक हैं। खाते की धनराशि की चोरी और भगाने की घटनाएं हुईं। यह व्यक्तियों की पहचान को बनाए रखकर धोखाधड़ी को रोकने में मदद करेगा। नो द कंज्यूमर अप्रोच पिछले कई सालों से प्रचलन में है। यदि वे खाता खोलने का निर्णय लेते हैं, तो यह जरूरी है और सभी व्यक्तियों को मानना ​​चाहिए। KYC अनुपालन के बिना Bank खाता, या mutual funds account खोलना आसान नहीं है


KYC Full Form- Know Your Customer  KYC Full Form In Hindi- Know Your Customer.


किसे चाहिए KYC?

KYC वित्तीय संस्थानों और अन्य संबंधित व्यवसायों के लिए एक अनिवार्य अभ्यास है। कंपनियों को नियमों का पालन करना चाहिए या अधिकारियों से जुर्माना या जुर्माना का सामना करना पड़ सकता है। निम्नलिखित उद्यमों के कुछ उदाहरण हैं जिन्हें केवाईसी को शामिल करने की आवश्यकता है


ज़मीन जायदाद का कारोबार

बैंकों और उनके संबंधित सहायक

ई-कॉमर्स

कीमती धातुओं के व्यापारी

बीमा कंपनी

केसिनो और ऑनलाइन गेमिंग

आभासी मुद्रा कारोबार


 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ