DGMS News: अब इंटरव्यू नहीं सिर्फ ऑनलाइन परीक्षाएं होंगी

DGMS News: अब इंटरव्यू नहीं सिर्फ ऑनलाइन परीक्षाएं होंगी

DGMS घोटाले के बाद बदलाव, अब इंटरव्यू नहीं सिर्फ ऑनलाइन परीक्षाएं होंगी

DGMS घोटाले के बाद बदलाव, अब इंटरव्यू नहीं सिर्फ ऑनलाइन परीक्षाएं होंगी


डीजीएमएस में पात्रता परीक्षा मेंइंटरव्यू बोर्ड द्वारा रिश्वतखोरी के खुलासे व सीबीआई की कार्रवाई के बाद अब डीजीएमएस में परीक्षा का प्रारूप बदलने का फैसला लिया गया है।

डीजीएमएस के डायरेक्टर जनरल प्रभात कुमार में कहा कि अगली बार से डीजीएमएस में आयोजित होने वाली सभी तरह की परीक्षाओं में साक्षात्कार की प्रक्रिया खत्म कर दी जाएगी। 

डीजीएमएस द्वारा ली जाने वाली पात्रता परीक्षाएं अब कंप्यूटर बेस्ड आधारित ऑनलाइन (सीबीटी) होंगी। इसी के आधार पर परिणाम घोषित किए जाएंगे।

कुछ परीक्षाओं को मर्ज भी कर दिया जाएगा। दलालों और अधिकारियों का नेटवर्क खत्म करने के लिए यह जरूरी है। डीजी ने कहा कि इस दिशा में काम किया जा रहा था।

जब तक ओरल एक्जाम खत्म नहीं कर दिया जाता, तब तक आयोजित होने वाली सभी परीक्षाओं को कड़ाई के साथ फेयर आयोजित करने की व्यवस्था की थी। कौन उम्मीदवार किस पैनल के पास जाएगा, इसे अंतिम समय तक भांपना मुश्किल था, परंतु शायद कुछ अधिकारियों को इसकी भनक लग गई होगी और इससे धांधली का रास्ता निकल गया होगा।

डीजी ने कहा कि डिप्टी डीजी अरविंद कुमार को सीबीआई ने गिरफ्तार किया है। सीबीआई द्वारा दायर एफआईआर की कॉपी और रिपोर्ट मंगाई जा रही है। उसके बाद विभागीय कमेटी बनाकर मामले की जांच कराई जाएगी।


DGMS के 4 डिप्टी डीजी को भेजा गया समन
DGMS में कोल इंडिया में मैनेजर संवर्ग में प्रोन्नति के लिए आयोजित परीक्षा में धांधली और 72 लाख की रिश्वतखोरी में डीजीएमएस के सेंट्रल जोन धनबाद.के डिप्टी डायरेक्टर जेनरल अरविंद.कुमार गिरफ्तार हैं, वहीं डीजीएमएस के चार अन्य डिप्टी जेनरल मैनेजर पर भी सीबीआई ने शिकंजा कस
दिया है। 

नॉर्थ वेस्टर्न जोन उदयपुर के डिप्टी डीजी मनीष ई. मुरकुटे, वेस्टर्न जोन नागपुर के डिप्टी डीजी यूपी सिंह, नॉदर्न जोन गाजियाबाद के डिप्टी डीजी सतीश छिंदरवार और साउथ सेंट्रल जोन के डिप्टी डीजी मलय टिकादार को सीबीआई ने पूछताछ के लिए समन भेजा है।




एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ