. Farmers Violence: कहा हैं Diljit Dosanjh, Prince Narula कब तक रहेंगे चुप

. Farmers Violence: कहा हैं Diljit Dosanjh, Prince Narula कब तक रहेंगे चुप

Farmers Violence: कहा हैं Diljit Dosanjh, कब तक रहेंगे चुप

. Farmers Violence: कहा हैं Diljit Dosanjh, कब तक रहेंगे चुप


गणतंत्र दिवस के अवसर पर ट्रैक्टर परेड के नाम पर, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली (दिल्ली) में किसानों ने विरोध प्रदर्शन किया। कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों का एक समूह ट्रैक्टरों के साथ लाल किले पर पहुंचा। प्रदर्शनकारियों ने लाल किले पर अपना धार्मिक झंडा लगाया। अब बॉलीवुड सेलेब्स भी इस पर अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। स्वरा भास्कर, जो कंगना की हैं, ने इस घटना को गलत बताया, लेकिन दिलजीत दोसांझ, जो हमेशा इस मुद्दे पर बोलते थे, गायब है।



दिलजीत दोसांझ का कोई जवाब नहीं


दिलजीत दोसांझ हमेशा से इस मुद्दे पर खुलकर बोलते रहे हैं, लेकिन अब उन्हें इस हिंसक घटना पर कोई बयान नहीं मिला, जबकि उन्होंने इस घटना से कुछ घंटे पहले ही गणतंत्र दिवस पर एक संदेश दिया था। लोगों को उम्मीद थी कि वे बोलेंगे, लेकिन 24 घंटे के बाद भी इस घटना से उनकी कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है। दिलजीत चुप हैं और उन्होंने इसके बारे में एक भी ट्वीट नहीं किया है। अब लोग दिलजीत से सोशल मीडिया पर भी सवाल कर रहे हैं कि उन्होंने क्या कहा है और वे इस मामले पर कुछ क्यों नहीं कह रहे हैं। एक यूजर ने दिलजीत के उस ट्वीट को रीट्वीट किया है जिसमें उन्होंने निर्दोष किसानों की तस्वीर साझा की है और कहा है कि वे आपके लिए एक आतंकवादी की तरह दिखते हैं। वहीं, कई लोग दिलजीत की आलोचना कर रहे हैं। बता दें, दिलजीत पिछले दिनों कैलिफोर्निया गए थे। वहां से, उसने तस्वीरें भी अपडेट की हैं। अभी तक उनकी वापसी का कोई अपडेट नहीं है।



कंगना ने दिलजीत पर गुस्सा निकाला


इस बीच कंगना रनौत ने भी उन पर तंज कसते हुए ट्वीट किया है। हाल ही में किए गए एक ट्वीट में कंगना रनौत, प्रियंका चोपड़ा और दिलजीत दोसांझ को देखा गया था। दोनों से सवाल करते हुए उन्होंने कहा, 'दिलजीत और प्रियंका (प्रियंका चोपड़ा) आप इस पर जवाब दें। पूरी दुनिया हम पर हंस रही है। यह वही है जो आप चाहते थे ... बधाई। इसके साथ ही कंगना ने एक फोटो शेयर की है जिसमें एक प्रदर्शनकारी एक पोल पर चढ़कर झंडा फहरा रहा है। 


पिछले कई दिनों कंगना राणावत और दिलजीत दोसांझ के बीच तीखी बहस हुई थी उसमें दिलजीत दोसांझ ने कंगना राणावत को कई अपशब्द कहे थे और किसान आंदोलन को एक शांतिपूर्ण आंदोलन बताया था लेकिन जब यह एक आतंकवादी आंदोलन बन गया तो उस पर diljit Dosanjh का कोई भी जवाब नहीं आया  साथ ही प्रिंस नरूला ने भी दिलजीत दोसांज का साथ दिया था और कंगना राणावत भर्ती की प्रतिक्रिया दी थी


लेकिन जब किसान आंदोलन एक आतंकवादी आंदोलन बन गया तो उस पर सारे पंजाबी कलाकार चुप है दिलजीत दोसांझ और प्रिंस नरूला के मुंह से एक शब्द तक नहीं निकला


प्रिंस नरूला ने 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के दिन एक pic share की जिसे आप नीचे देख सकेंगे उसमें साफ साफ दिखा जा रहा है कि आतंकवादी और उग्रवादी हिंसक आंदोलन को प्रिंस नरूला सपोर्ट कर रहे हैं और इसे जस्टिफाई भी कर रहे हैं एक महान योद्धा से जिसने मुग़ल सल्तनत से लोहा लिया था और इस देश के लिए कई बलिदान दिए


. Farmers Violence: कहा हैं Diljit Dosanjh, कब तक रहेंगे चुप



दिलजीत दोसांझ और प्रिंस नरूला जैसे भारत देश में बहुत से फेक इनफ्लुएंसर मौजूद है जिसे भारत का एक बहुत बड़ा तबका प्यार और मोहब्बत देता है लेकिन जब यह फेक इनफ्लुएंसर ऊंचाई के आसमान पर पहुंच जाते हैं तो यह सिर्फ सिर्फ अपनी बात और अपनी विचारधारा थोपते हैं फिर उनसे आपका कोई भी मतलब नहीं रहता जो किसान आंदोलन पर उदाहरण बन कर सामने आ गया क्योंकि जिस प्रकार पुलिस वालों पर फेक किसानों ने आक्रमण किया और पुलिस वालों की तरफ से कोई भी प्रतिक्रिया नहीं आई.




बहुत सारी फोटो किसानों द्वारा पुलिस की पिटाई वायरल हो रही है लेकिन इन फोटो को कोई भी पंजाबी एक्टर दिलजीत दोसांझ और प्रिंस नरूला जैसे फेक इनफ्लुएंसर आप को नहीं दिखाएंगे ना ही शेयर करेंगे

. Farmers Violence: कहा हैं Diljit Dosanjh, कब तक रहेंगे चुप


अब आप को समझना हो गई कि कौन देश के हित की और आपके हित की बात करेगा.


हम किसान आंदोलन का सम्मान करते हैं लेकिन 26 जनवरी के दिन जो भी हुआ उसे पूरी तरह से नकारा नहीं जा सकता वह किसान नहीं आतंकवादी ज्यादा लग रहे थे 




Post a Comment

0 Comments