भारत का दोस्त Antony Blinken बनेगा अमेरिका का Secretary of State.

भारत का दोस्त Antony Blinken बनेगा अमेरिका का Secretary of State.

अमेरिका का प्रेसिडेंट कौन होगा यह अभी कोर्ट में विचाराधीन है लेकिन डेमोक्रेट पार्टी के उम्मीदवार जो वाइडन ने अभी से ही अपने मंत्रिमंडल का खाता तैयार कर रखा है यानी सब कुछ ठीक रहा तो जो वाइडन के मंत्रिमंडल में Antony Blinken विदेश मंत्री बन सकते हैं जो भारत के  लिए कोई शुभ समाचार से कम नहीं है
रॉयटर्स और ब्लूमबर्ग से बातचीत के दौरान Biden प्रशासन से जुड़े सूत्रों ने इस बात के लिए स्पष्ट किया Antony के विदेश मंत्री बनने की संभावना प्रबल है


 रॉयटर्स और ब्लूमबर्ग से बातचीत के दौरान Biden प्रशासन से जुड़े सूत्रों ने इस बात के लिए स्पष्ट किया Antony के विदेश मंत्री बनने की संभावना प्रबल है  आपको बता दें कि ओबामा प्रशासन के दौरान Antony ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार के साथ विदेश मंत्रालय के नंबर दो की पदवी भी संभाल चुके हैं Antony, Joe Biden के काफी नजदीक है इसलिए उनका विदेश मंत्री बनना भी काफी हद तक तय माना जा रहा है

Antony Blinken के विदेश मंत्री बनने से भारत को क्या फायदा-

दरअसल Antony Blinken काफी समय से भारत के समर्थकों में से एक रहे हैं ना सिर्फ भारत के बढ़ते अंतरराष्ट्रीय कद का सम्मान रखते हैं बल्कि  चीन से निपटने के लिए एक असरदार विकल्प भी मानते हैं

अगस्त 2020 में पूर्व अमेरिकी राजदूत Richard Verma से बातचीत के दौरान Antony ने बताया कि किस प्रकार चीन की आक्रामकता से अमेरिका और भारत को समान रूप से परेशानी हो रही है Antony के अनुसार अमेरिका और भारत के पास एक समान चुनौतियां हैं चीन की बढ़ती आक्रमक था जिस प्रकार से वह LAC  पर भारत के विरुद्ध आक्रमक हो रहा है और जिस प्रकार से वह अपनी आर्थिक शक्तियों का दुरुपयोग कर छोटे देशों पर अत्याचार कर रहे हैं उससे हमारी यानी भारत और अमेरिका की चिंताएं काफी बढ़ गई हैं

परंतु Antony यहीं नहीं रुके उन्होंने आगे कहा कि अंतरराष्ट्रीय अधिनियम की धज्जियां उड़ाई जा रही है  और चीन अपने सैन्य बल का दुरुपयोग कर चीन  समुद्री आवाजाही के लिए खतरा बनता जा रहा है ऐसे में भारत के साथ मजबूत साझेदारी और भी अहम हो जाती है और हम चाहते हैं कि भारत का कद अंतरराष्ट्रीय में और भी बढ़े. हमारे प्रशासन का प्रयास होगा कि भारत संयुक्त राष्ट्र में जल्द से जल्द स्थाई सदस्य प्राप्त करें 

इससे स्पष्ट होता है कि जो Joe Biden अपनी भारत के प्रति वफादारी साबित करने के लिए किसी भी हद तक जाने के लिए तत्पर हैं joe biden भी जानते हैं कि चाहे कुछ भी हो जाए वह भारत के प्रति अपनी मनमानी नहीं कर सकते हैं क्योंकि भारत पहले जैसा बिल्कुल भी नहीं रहा ऐसे में जो वाइडन चाहते हैं कि उनके मंत्रिमंडल में ज्यादा से ज्यादा लोग ऐसे लोग जो भारत के प्रति अपना समर्थन खुलकर जता पाए 

अगर Antony को विदेश मंत्री बनाया जाता है तो इससे भारत और अमेरिका के रिश्ते में और सुधार होगा बल्कि अमेरिका और भारत मिलकर चीन की आक्रामकता को रोक सकेंगे 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ