UP News: अब संस्कृत में भी काम करेगी योगी सरकार!

UP News: अब संस्कृत में भी काम करेगी योगी सरकार!

सिर्फ हिंदी, उर्दू और अंग्रेजी में नहीं संस्कृत में भी काम करेगी उत्तर प्रदेश की योगी सरकार!

विधानसभा सीटों के लिए आज से देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में चुनाव हुए तो बीजेपी बहुमत में सत्ता में आई, और प्रदेश की जिम्मेदारी सौंपी गई

सिर्फ हिंदी उर्दू और अंग्रेजी में नहीं संस्कृत में भी काम करेगी उत्तर प्रदेश की योगी सरकार!


हिंदूवादी छवि वाले नेता योगी आदित्यनाथ सीएम की कुर्सी संभालने के बाद योगी आदित्यनाथ ने हिंदू वाद को बढ़ाने के लिए एक के बाद एक फैसले लिए जिसके  कारण वह विपक्ष के निशाने में भी रहे लेकिन योगी आदित्यनाथ अपनी छवि के अनुरूप ही काम कर रही हैं और एक बार फिर हिंदी संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए एक कदम आगे बढ़ाया है 


योगी सरकार ने अब कामकाज में संस्कृत भाषा को भी जोड़ दिया है उत्तर प्रदेश में सरकार सूचना विभाग के कामकाज को भी हिंदी अंग्रेजी उर्दू भाषा के अलावा भी अब संस्कृत भाषा में कामकाज करेगी


सीएम योगी आदित्यनाथ ने सरकारी कामकाज में भी संस्कृत भाषा को जोड़ दिया है इसकी शुरुआत भी की जा चुकी है शनिवार को  राज्य सरकार के स्वास्थ्य विभाग ने जो कोविड-19 को लेकर हेल्थ बुलेटिन जारी किया वह संस्कृत में भी था योगी सरकार का सूचना विभाग अब तीन नहीं बल्कि 4 भाषाओं में कामकाज कर रहा है


मुख्यमंत्री कार्यालय ने मामले को लेकर ट्वीट किया और लिखा मुख्यमंत्री के अनुसार अब शासकीय प्रेस विज्ञप्ति या अब संस्कृत भाषा में भी निर्गत की जाएंगी अभी तक सरकारी विज्ञप्ति हिंदी अंग्रेजी और उर्दू में प्रसारित होती थी लेकिन अब संस्कृत में भी प्रसारित होगा


एक टीम को इस काम के लिए लगाया गया है सरकार के मुताबिक यह फैसला संस्कृत को बढ़ावा देने के लिए लिया गया है साथ ही संस्कृत प्रेमियों की मांग पर भी योगी सरकार ने ध्यान दिया और उसके बाद इस दिशा में कदम आगे बढ़ाएं


आपको बता दें कि संस्कृत एक बहुत ही प्राचीन भाषा है यह भारत के कई हिस्सों में प्राचीन काल से ही लोगों की प्राथमिक भाषा रही है लेकिन अब यह शास्त्रों और उपनिषदों तक ही सिमट कर रह गई है जिसे बढ़ावा देने के लिए योगी सरकार ने नया कदम उठाया है भारत जैसे परंपरागत संस्कृति देश में योगी सरकार की तरफ से संस्कृत को बढ़ावा देना सही है या गलत कमेंट करके जरूर बताएं


#sanskrituttarpradesh #upgoverment

#yogisarkar #yogisarkarsanskrit

#yogisanskrit

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ