Mask और Handwash पर क्या कहती है रिसर्च

Mask और Handwash पर क्या कहती है रिसर्च

1. एडिनबर्ग यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं का दावा
2. कम से कम 6 बार साबुन से हाथ धुले
3. चेहरे को mask से ढक कर रखें
4. 90 फ़ीसदी कम हो सकता है संक्रमण का खतरा

Coronavirus से बचने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग के अलावा जिस बात पर सबसे ज्यादा जोर दिया जा रहा है वह हाथों को धुलना और चेहरे को mask से ढक कर रखना है

यह ऐसे ही नहीं कहा जा रहा है इन उपायों से 100 फ़ीसदी  ना सही 90 फ़ीसदी तक corona संक्रमण रोका जा सकता है

6 बार साबुन से हाथ धुले
शोधकर्ताओं का कहना है कि दिन में कम से कम 6 बार साबुन से हाथ धुले और चेहरे को mask से ढककर corona संक्रमण को 90 फ़ीसदी तक कम किया जा सकता है mask लगाते हैं तो 90 फ़ीसदी तक ड्रॉपलेट से होने वाला खतरा कम हो जाता है 

इन दोनों उपायों पर की गई रिसर्च से वही बातें निकल कर आई है जो हर देश की सरकार और विशेषज्ञ बता रहे हैं

Edinburgh university के शोधकर्ताओं ने सात अलग-अलग चेहरे को ढकने वाले मास्क पर रिसर्च की. इसमें मेडिकल मास्क और होममेड मास्क भी शामिल थे शोध कर्ताओं का कहना है कि यह भी कोरोनावायरस को रोक सकते हैं चाहे घर के बने मास्क या मेडिकल से लाए हुए mask दोनों ही corona को सीधे तौर पर रोक सकते हैं

शोधकर्ताओं का कहना है कि कुछ mask ऐसे होते हैं जिसमें किनारों से तेजी हवा अंदर जाती है जबकि सर्जिकल और homemade टेस्टेड मास्क हवा को रोकता है अगर mask के चारों तरफ से आवाज आने के लिए जगह नहीं है तो यह सबसे सुरक्षित हैं 

अमेरिका के सेंट्रल फॉर डिसीज कंट्रोल और विशेषज्ञ यानी सीडीसी मैं भी अपील की थी कि अमेरिकी लोग कपड़े से बने मास्क पहने, इस तरह के mask को घर पर ही बनाया जा सकता है या फिर बाजार से खरीदा भी जा सकता है सामान्य लोगों को मेडिकल ग्रेड मास्क नहीं पहनना चाहिए

University college लंदन के शोधकर्ताओं का कहना है कि corona जैसे खतरनाक वायरस के संक्रमण से बचने के लिए रोजाना कम से कम 6 बार और ज्यादा से ज्यादा 10 बार तक हाथ को अवश्य धुले 2006 से 2009 के बीच फैली महामारी के आंकड़ों के मुताबिक इसे  साबुन या पानी से खत्म किया जा सकता है

शोधकर्ताओं के मुताबिक corona शुरू के एक ही तरह के वायरस से जुड़े हुए हैं सभी के संक्रमण में सांस लेने में तकलीफ होती है ऐसे संक्रमण से बचने के लिए बार-बार हाथ धुलना ही बेहतर विकल्प है एक रिसर्च के अनुसार जिन्होंने 6 बार हाथ धुले में संक्रमण का खतरा कम रहा और जिन्होंने 6 बार से कम हाथ धुला उनमें संक्रमण का खतरा ज्यादा रहा इंग्लैंड की सरकार ने 20 सेकंड तक हाथ धुलने की सलाह दी गई है

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ