Maharashtra से लौट रहे मजदूर थककर पटरी पर सो गए, मालगाड़ी से कटकर मौत

Maharashtra से लौट रहे मजदूर थककर पटरी पर सो गए, मालगाड़ी से कटकर मौत

Lockdown को लेकर प्रवासी मजदूरों के पलायन को लेकर एक दिल दहलाने वाली घटना सामने आई है महाराष्ट्र औरंगाबाद में रेल पटरी पर प्रवासी मजदूरों मालगाड़ी ने रोक दिया यह हादसा औरंगाबाद के जालदा रेल लाइन के पास हुआ जिसमें 16 प्रवासी मजदूरों को अपनी जान गंवानी पड़ी जबकि कई अन्य मजदूर घायल बताए जा रहे हैं


यह हादसा शुक्रवार की सुबह 6:30 पर हुआ बताया जा रहा है कि यह सभी प्रवासी मजदूर पैदल अपने घर जा रहे थे और थक कर रेल पटरी पर सो गए तभी मालगाड़ी वहां से गुजरी और प्रवासी मजदूरों को रौंद दी जिसमें 16 प्रवासी मजदूरों की मौत हो गई और 5 घायल मजदूरों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है

रेल मंत्रालय ने बताया कि घटना बदनापुर और करनाल स्टेशन के बीच की है शुक्रवार को मजदूर रेलवे ट्रैक पर सो रहे थे मालगाड़ी के ड्राइवर ने उन्हें देख लिया था बचाने की कोशिश भी की लेकिन हादसा हो गया मामले की जांच के आदेश दे दिए गए हैं

 बताया जा रहा है कि यह सभी मजदूर जालना की एसआर जे फैक्ट्री में काम करते थे औरंगाबाद से मध्य प्रदेश के लिए कुछ ट्रेन रवाना हुई थी जिसकी वजह से जालना से यह मजदूर औरंगाबाद के लिए रवाना हुए रेलवे ट्रैक के बगल में 40 किलोमीटर पैदल चलने के बाद करनाल के करीब थककर पटरी पर सो गए

औरंगाबाद के एसपी ने बताया हादसे में मौके पर 14 मजदूरों की मौत हो गई और बाद में 2 मजदूरों ने दम तोड़ दिया एक की हालत गंभीर है बचे चार अन्य लोगों से बातचीत की जा रही है यह सभी मजदूर मध्य प्रदेश के रहने वाले थे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने मृतक मजदूरों के परिवार वाले को 5-5 लाख देने का ऐलान किया है उन्होंने रेल मंत्री से बात कर घायलों को सहायता करने के लिए कहा है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी औरंगाबाद में हुए हादसे पर दुख जताया है प्रधानमंत्री ने ट्वीट करके कहा औरंगाबाद हादसे में जिन लोगों की जान गई उनसे काफी दुख पहुंचा है इस हादसे में रेल मंत्री पीयूष गोयल से बात की मनोज का जायजा लेने को कहा है


कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने भी इस घटना पर दुख जताया है राहुल गांधी ने ट्वीट करके लिखा मालगाड़ी से कुचले जाने से भाइयों-बहनों के मारे जाने की खबर से स्तब्ध हूं

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ