Lockdown 5.0: इन 13 शहरों में लागू रहेगी सख्ती, होटल और मॉल खुल सकते हैं

Lockdown 5.0: इन 13 शहरों में लागू रहेगी सख्ती, होटल और मॉल खुल सकते हैं

1. Lockdown 5.0 को लेकर केंद्र की तैयारियां
2. अन्य जगह खुल सकते हैं होटल और मॉल
3. 13 शहरों में लागू रहेगी सख्त पाबंदियां
Lockdown 5.0:

31 मई को lockdown 4.0 खत्म होने वाला है इसके आगे lockdown 5.0 को लेकर सरकार ने रणनीति बनाना शुरू कर दिया है जिसमें सरकार ने उन 13 शहरों को फोकस किया है जहां corona पॉजिटिव के केस सबसे ज्यादा है  इन 13 सालों में देश में 70% से ज्यादा कोरोना case मिले! 

इन 13 city के अलावा बाकी शहरों में lockdown की पाबंदी को हटाने का प्लान बनाया जा रहा है इसके अलावा इस बार होटल मॉल रेस्टोरेंट्स के भी खोलने का प्लान बनाया जा रहा है

सबसे ज्यादा प्रभावित शहरों के नाम है 
नई दिल्ली, इंदौर 3. जयपुर, अहमदाबाद, जोधपुर, मुंबई,पुणे, ठाणे, कोलकाता हावड़ा, हैदराबाद चेन्नई थिरुवल्लूर. इन शहरों के अलावा सरकार कई तरह की छूट दे सकती है जिसमें मॉल और होटल को हरी झंडी मिल सकती है लेकिन इनको खोलने के लिए सरकार द्वारा जारी शर्तों को मानना जरूरी होगा!

केंद्र सरकार द्वारा जारी गाइडलाइंस में कहां गया है शहरों को कंटेंटमेंट जो निर्धारित करने की छूट दी गई है म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन यह तय कर सकते हैं कि रेडिसियल कॉलोनी, मोहल्ले, म्युनिसिपल वार्ड या पुलिस थाने के इलाके, कस्बों को कंटेनमेंट जोन घोषित किया जाए या नहीं! वहीं शहर लोकल लेवल पर इनपुट के आधार पर कंटेंटमेंट जोन का दायरा तय करें!

इसके अलावा सूत्रों की मानें तो ज्यादातर पब्लिक ट्रांसपोर्ट को खोल दिया जाएगा लेकिन यहां सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान जरूर रखा जाएगा लोगों पर नजर रखी जाएगी और नियमों का पालन न करने पर पहले जैसे सजा देने का प्रावधान है लेकिन इन सबके बीच मेट्रो सेवा बंद ही रखी जाएगी.

दरअसल केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को राज्यों के मुख्यमंत्री से बात की जिसके बाद उन्होंने इस विषय पर शुक्रवार को पीएम मोदी से मुलाकात की जहां दोनों नेताओं ने नई गाईडलाइंस को लेकर मंथन किया उम्मीद की जा रही है कि रविवार को मन की बात में पीएम मोदी देशवासियों को इसकी जानकारी देगें और आगे होने वाले बदलावों और नियमों के बारे में बताएंगे यह भी हो सकता है कि पीएम नरेंद्र मोदी लॉकडाउन के आगे बढ़ाए जाने पर जनता से बात करें!

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ