India ने भी Border सैन्य टुकड़ी बढ़ाई, china से बातचीत फेल.

India ने भी Border सैन्य टुकड़ी बढ़ाई, china से बातचीत फेल.

Border पर भारत और चीन की बातचीत हुई फेल

भारत और चीन के बीच LAC पर तनाव कम करने के लिए फील्ड लेवल की बातचीत की जा रही है रिपोर्ट के अनुसार चीन ने LAC पर अपनी सैन्य ताकत बढ़ा दी है जिसे देखते हुए भारतीय सेना ने भी उत्तराखंड में अधिक बल सैन्य टुकड़ियों को बढ़ा दिया है

इंडियन एक्सप्रेस ने अपनी रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से लिखा है कि LAC पर 24 घंटे सावधानी और सतर्कता व निगरानी रखी जा रही है आपको बता दें कि पूरे लद्दाख में LAC के पास कई क्षेत्रों में भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच तनाव बरकरार हैं बताया जा रहा है कि 2017के डोकलाम विवाद के बाद यह सबसे बड़ी सैन्य तनातनी का रूप ले सकती है

उच्च पदस्थ सैन्य सूत्रों का कहना है कि भारत ने विवादित क्षेत्रों में अपनी सैन्य टुकड़ियों को मजबूत किया है इन विवादित क्षेत्रों में चीनी सैनिकों ने भी दो से ढाई हजार सैनिकों की तैनाती की है और आस्थाई निर्माण को मजबूती प्रदान कर रहा है

समाचार एजेंसी पीटीआई भाषा के अनुसार नाम उजागर ना करने की शर्त पर एक उच्च सेन अधिकारी ने कहा इन क्षेत्र पर भारतीय सेना चीन की सेना से कई ज्यादा बेहतर स्थिति पर है
सेना के उत्तरी कमान के लेफ्टिनेंट कर्नल जर्नल डीएस हुड्डा ने पीटीआई भाषा से कहा कि यह एक गंभीर मसला है यह सामान्य तौर पर किया गया अतिक्रमण नहीं है लेफ्टिनेंट हुड्डा ने इस बात पर विशेष तौर से बल दिया कि गलवान क्षेत्र पर दोनों पक्षों में कोई विवाद नहीं है इसलिए चीन द्वारा यहां पर अतिक्रमण किया जाना चिंता की बात है

सूत्रों के मुताबिक पिछले सप्ताह में दोनों सेनाओं के कमांडरों ने कम से कम पांच बैठक की जिसमें भारतीय पक्ष ने चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी द्वारा गलवान घाटी में बड़ी संख्या पर तंबू लगाने का विरोध किया भारतीय कमांडरों ने कहा कि यह भारत का क्षेत्र है 

भारत में कहा था कि चीनी सेना भारतीय सेना की गश्त में बाधा उत्पन्न कर रही है और भारत में सीमा को लेकर हमेशा दायित्व कर्तव्य निभाया है

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ