भारत की कार्रवाई से घबराया चीन, कर रहा है शांति की अपील

भारत की कार्रवाई से घबराया चीन, कर रहा है शांति की अपील

अपनी चालबाजी के लिए दुनिया में बदनाम चीन को भारत के सामने झुकना पड़ा है सिक्किम की सीमा पर भारत और चीन के सैनिकों के बीच सीमा विवाद हुई और इसके लिए चीन की चालबाजी ही जिम्मेदार है

नियमित अंतराल के बाद चीन सीमा विवाद को बढ़ाने की कोशिश करता है लेकिन इस बार भारत के बड़े और सक्षम कूटनीति के आगे नतमस्तक होना पड़ा चीन के सैनिकों ने भारतीय सैनिकों के साथ हाथापाई की जिसके बाद भारत ने सख्त लहजे में चीन को चेतावनी दी इसके बाद चीन ने नरम रुख अपनाते हुए भारत से आग्रह किया है कि हमें इन सब मुद्दों से उलझना नहीं चाहिए

यानी कि यह साफ हो गया है कि आज का नया भारत चीन जैसी महाशक्ति को भी अपने समय झुकाने की ताकत रखता है बीजिंग में चीनी मीडिया से कांफ्रेंस के दौरान चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा सैनिकों की झड़प को लेकर दोनों देश राजनैतिक स्तर पर संपर्क में हैं

सीमा विवाद को लेकर चीन की स्थिति पूरी तरह साफ है  pupil लिबरेशन आर्मी के जवान वास्तविक नियंत्रण रेखा पर अपने देश की तरफ गश्त कर रहे थे  हमने आग्रह किया है कि भारत ऐसा कोई कदम ना उठाए जिससे सीमा क्षेत्र पर विकास और द्विपक्षीय संबंध खराब हो चीनी जवान शांति और स्थिरता के लिए प्रतिबद्ध है

5 मई को चीनी और भारतीय सैनिकों की झड़प के बाद सीमा के निकट चीन के दो हेलीकॉप्टर को भी उड़ते देखा गया था जिसके जवाब में भारतीय वायुसेना ने भी पलटवार करते हुए sukhoi-30 फाइटर प्लेन को वहां पर गश्त करने के लिए भेज दिया था 

फिलहाल आए दिन चीन सीमा पर अतिक्रमण करने की कोशिश करता है चालबाज चीन की हमेशा से आदत है कि वह पड़ोसी देशों के क्षेत्रों को अपना बताने लगता है लेकिन जिस तरह भारत ने चीन की हर हरकत का जवाब दिया है उससे यह साफ साफ संदेश है कि चीन भारत को हल्के में लेने की कोशिश करेगा तो उसे पछतावे के सिवाय कुछ और नहीं मिलेगा

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ