कश्मीर मुद्दे पर अचानक बदल गया ब्रिटेन की लेबर पार्टी का रुख

कश्मीर मुद्दे पर अचानक बदल गया ब्रिटेन की लेबर पार्टी का रुख

जब से भारत में जम्मू कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा हटाया है तबसे अंतर्राष्ट्रीय पर जम्मू कश्मीर का मुद्दा उठता रहा है जहा कहीं पर भारत कैसे आंतरिक मुद्दा बताया जाता है तो कहीं पर इसे अंतर्राष्ट्रीय मानव अधिकार का उल्लंघन कहा जाता है हालांकि भारत में इसे शुरू से अपना आंतरिक मुद्दा बताते हुए किसी भी देश के दखल को साफ नकारते आया है

लेकिन अब भारत को ब्रिटेन में कश्मीर मुद्दे पर एक बड़ी कूटनीति जीत मिली है दरअसल ब्रिटेन की लेबर पार्टी के हाल ही में नियुक्त हुए नेता ने कहा कि वह कश्मीर व भारत के किसी भी संवैधानिक मसले पर दखल नहीं देंगे

लेबर पार्टी के नियुक्त नेता कीर स्टमर ने कहा हम एशिया की मुद्दों की वजह से यहां के समुदाय को विभाजित नहीं होने दे सकते भारत का कोई भी संवैधानिक मुद्दा भारतीय संसद का मुद्दा है और कश्मीर मसले को भारत और पाकिस्तान शांतिपूर्ण तरीके से आपस में सुलझाना चाहिए लेबर पार्टी का भारत के साथ लंबा और बेहतरीन रिश्ता रहा है और मैं चाहता हूं कि यह जारी रहे!

कीर स्टमर ने 4 अप्रैल को jeremycorbyn की जगह ली है corbyn के नेतृत्व में लेबर पार्टी की विचारधारा एक्सट्रीम लेस मानी जाती थी jeremy ने जम्मू कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा दिए जाने के बाद एक ट्वीट किया था जिसमें उन्होंने लिखा था- कश्मीर के हालात बहुत ही व्यथित करने वाले हैं कश्मीर में मानवाधिकार उल्लंघन हो रहा है जो बिल्कुल अस्वीकार है कश्मीरियों के सम्मान का अधिकार जरूर होना चाहिए और संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव को लागू करना चाहिए
इतना ही नहीं लेबर पार्टी ने एक प्रस्ताव जारी किया था जिसमें उन्होंने मानव अधिकार के उल्लंघन का जिक्र करते हुए कश्मीर के लोगों को आत्म संकल्प लेने की बात कही थी जिसमें ब्रिटेन में बसा भारतीय समुदाय लेबर पार्टी से काफी नाराज हो गया था लेकिन पार्टी के नए नियुक्त नेता कीर स्टमर का अब यह बयान सामने आने के बाद इसे भारतीय समुदाय की नाराजगी दूर करने की कोशिश मानी जा रही है हालांकि स्टार मर के यह बयान पार्टी के अंदर विवाद खड़ा कर सकते हैं

लेबर पार्टी की ही लंदन वाइस चेयरपर्सन सीमा चंदवानी ने कहां की स्टमर किसी गैर जिम्मेदार लोगों के साथ मिलकर एकतरफा कश्मीर पर पार्टी का रुख नहीं बदल सकते आपको बता दें कि 2019 में ब्रिटेन में हुए चुनाव में कश्मीर  भी एक मुद्दा था ऐसे में लेबर पार्टी से नाराज भारतीय समुदाय ने उन्हें हराने की कोशिश की थी लेकिन एक सर्वे के अनुसार पता चला कि भारतीय समुदाय का झुकाव कंजरवेटिव पार्टी की ओर बढ़ता जा रहा है इसीलिए लेबर पार्टी इसका कोई भी खतरा नहीं लेना चाहती

Post a Comment

0 Comments