Corona संकट में india ने की दुनिया की मदद, और यह देश india को पहुंचा रहे हैं मेडिकल सामग्री

Corona संकट में india ने की दुनिया की मदद, और यह देश india को पहुंचा रहे हैं मेडिकल सामग्री

भारत की मदद कर रहे हैं दुनिया के कई देश

दुनिया भर में corona वायरस के तेजी से मामले बढ़ते जा रहे हैं ऐसे में कई देशों ने भारत से पेरासिटामोल और hydroxychloroquine आपूर्ति के लिए मदद मांगी है india ने भी पूरी दुनिया को भरोसा दिलाया है कि corona virus मुकाबले में हम सभी देशों की हर संभव मदद करेंगे
Coronavirus के मामले में हो रही  वृद्धि को देखते हुए pm नरेंद्र मोदी ने 130 भारतीय दूतावासों को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए महामारी से निपटने के लिए उपकरणों और बेहतर तरीकों पर नजर रखने के लिए कहा है इसके बाद कई देशों ने भी संक्रमण से निपटने के लिए india की तरफ मदद का हाथ बढ़ाया है चीन, जर्मनी और दक्षिण कोरिया india को मेडिकल उपकरण उपलब्ध करा रहे हैं विश्व बैंक ने भारत को भारी भरकम आर्थिक मदद का ऐलान कर दिया है

World bank करेगा 1 अरब डॉलर की आर्थिक मदद.

विश्व बैंक ने भारत के लिए एक अरब डॉलर के आपातकालीन वित्तपोषण को मंजूरी दी है विश्व बैंक की ओर से कहा गया है कि हमारी सहायता परियोजनाओं का पहला set 1.9 अरब डॉलर का है इससे दुनिया के 25 देशों की मदद की जाएगी आपातकालीन  वित्तीय सहायता का सबसे बड़ा हिस्सा इंडिया को दिया गया है इससे इंडिया में बेहतर स्क्रीनिंग, मेडिकल और प्रयोगशाला में मदद मिलेगी साथ ही इससे भारत राष्ट्रीय सुरक्षा उपकरणों की खरीदी भी करेगा, विश्व बैंक ने पाकिस्तान के लिए 20 करोड़ डॉलर और अफगानिस्तान के लिए 10 करोड़  डॉलर की मंजूरी दी है

 अमेरिका के विदेश मंत्रालय ने भी कहा था कि वह india को 29 लाख करोड़ डॉलर की राशि दे रहा है जिसका इस्तेमाल corona के लिए टेस्ट लैब, नए मामलों का पता लगाने और टेक्निकल एक्सपर्ट की सेवा लेने में किया जा सकेगा

Chine ने इंडिया को दिए पीपीई किट

Corona virus की शुरुआत चीन के वुहान शहर से हुई, ऐसे में इस वायरस को लेकर चीन की समझ और समझदारी सबसे ज्यादा है china ने भारत को मदद की पेशकश की है चीन ने भारत को corona वायरस जंग से लड़ने के लिए पीपीई किट देकर मदद की है संक्रमण के इलाज में चिकित्सा कर्मियों के इस्तेमाल में आने वाले निजी सुरक्षा उपकरणों पीपीई किट भारत को मिल चुकी है

दक्षिण कोरिया ने दिया 5 लाख रैपिड टेस्ट किट

केंद्र सरकार corona वायरस से निपटने के लिए कुछ देशों से अत्याधुनिक तकनीकों की खरीदी कर रही है इस क्रम में आईसीएमआर ने दक्षिण कोरिया समेत कुछ देशों से रैपिड टेस्ट किट की खरीदी की है आईसीएमआर ने बताया कि जरूरत को ध्यान में रखते हुए 5 लाख रैपिड टेस्ट किट खरीद ली गई है अभी देश में संक्रमितओं के संपर्क में आए लोगों को बड़ी संख्या में qurentine किया जा रहा है ऐसे में corona संक्रमित की जरूरत पहचान करने के लिए एंटी बॉडी टेस्टिंग का सहारा लिया जाएगा इसके नतीजे कुछ ही घंटों में मिल जाती हैं वहीं महाराष्ट्र ने दक्षिण कोरिया से 1 लाख रैपिड टेस्ट किट अलग से मंगवाई है

जर्मनी दे रहा है 10 लाख टेस्ट किट

केंद्र सरकार संक्रमण से निपटने के लिए बड़े पैमाने में तैयारी शुरू कर दी है सरकार जल्दी देश के सभी मेडिकल कॉलेजों और लैब में कोरोना वायरस टेस्टिंग की सुविधा की योजना पर काम कर रही है हाल ही में आईसीएमआर ने कहा था कि कुछ दिनों के भीतर देश में हर दिन 1 लाख होना टेस्ट करवाने का टारगेट रखा है इसके लिए केंद्र सरकार ने जर्मनी से 10 लाख टेस्ट किट का ऑर्डर दे दिया है वहीं जर्मनी ने अपने सभी ऑटोमोबाइल्स कंपनियों को सारे काम छोड़ कर वेंटिलेटर बनाने का आदेश दे दिया है

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ