Coronavirus: मरकज से देश में इन राज्यों तक पहुंचा कोरोना

Coronavirus: मरकज से देश में इन राज्यों तक पहुंचा कोरोना

दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज से पिछले 2 दिनों के दौरान दिल्ली पुलिस को मिले 1830 लोगों में 280 लोग विदेशी हैं इन विदेशी नागरिकों में ब्रिटेन और फ्रांस के नागरिक भी शामिल है इस मरकज मस्जिद में मार्च के मध्य में एक धार्मिक कार्यक्रम आयोजित किया गया था और यह देश के corona वायरस प्रसार का बड़ा केंद्र बन गया है दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने भी कहा कि दिल्ली में 97 मामलों में 24 मामलों का संबंध मरकज से है इनमें से 41 लोगों ने विदेश यात्राएं की थी यहां मिले अधिकतर लोगों को qurentine या अस्पतालों में भेज दिया गया है बताया जा रहा है कि 16 देशों से 1830 लोग 24 मार्च को 21 दिन के लॉक डाउन होने के बाद तबलीगी जमात के मरकज में बने रहे!

इन विदेशियों में इंडोनेशिया के 72, श्रीलंका 34, म्यांमार 33 किर्गिस्तान 28, मलेशिया 20, नेपाल 9, बांग्लादेश 9, थाईलैंड 7, फिजी 4, इंग्लैंड 3, अफगानिस्तान, नाइजीरिया सिंगापुर फ्रांस और कुवैत का एक-एक नागरिक शामिल है

बाकी लोगों में से तमिलनाडु (501), असम 216, उत्तर प्रदेश 156, महाराष्ट्र 109, मध्य प्रदेश 107, बिहार 86, पश्चिम बंगाल 73, तेलंगाना 55, झारखंड 46, कर्नाटक 45, उत्तराखंड 34, हरियाणा 22, अंडमान निकोबार 21, राजस्थान 19, हिमांचल प्रदेश 15, केरल 15, उड़ीसा 15 पंजाब 9, मेघालय 5 लोग शामिल है

पिछले 1 महीनों के दौरान विदेशों से कम से कम 8000 लोगों ने इस परिसर का दौरा किया है उनमें से अधिकतर लोग या तो अपने राज्य को लौट गए हैं या देश में बने अलग-अलग हिस्सों में मरकज में है इस तरह से देखा जाए तो उन राज्यों में corona पॉजिटिव संबंध हो सकता है

उत्तर प्रदेश के बिजनौर जिले के तहसीम मदीना के मस्जिद में दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज से आए इंडोनेशिया के 8 धर्म प्रचारक मिले हैं पहले यह लोग उड़ीसा गए थे फिर 21 मार्च को नगीना आए पुलिस ने इन सब को पृथक केंद्र भेज दिया है और इनकी पूरी जानकारी जुटाई जा रही है कि यह लोग कहां कहां गए थे

मस्जिद के 5 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जा रहा है स्वास्थ्य विभाग मस्जिद को सैनिटाइज करवा रहा है उन 6 इंडोनेशियाई लोगों के अलावा हैदराबाद में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की पुष्टि हुई है जम्मू कश्मीर और तेलंगाना के 1-1 व्यक्ति की संक्रमण के कारण मौत हो गई है यह सभी तबलीगी जमात में शामिल हुए थे

अधिकारियों ने कहा कि मरकज पदाधिकारियों ने लाकडाउन घोषणा के बाद 25 मार्च को 1200 लोगो के बारे में पुलिस को सूचित किया था इनमें से कुछ लोगों को पुलिस ने दिल्ली से बाहर निकाल दिया, 26 मार्च को मरकज में लगभग 2000 लोग फिर से जमा हो गए मरकज पदाधिकारियों ने भले ही लोगों को बाहर भेजने के लिए पुलिस प्रशासन अधिकारियों की मदद मांगी लेकिन तब तक सड़क रेल और हवाई मार्ग पूरी तरह से बंद हो गया था

 पुलिस को जो 1830 लोग मिले हैं मैं से माना जा रहा है लगभग 200 लोगों को covid19 लक्षण देखने को मिले हैं अस्पतालों में भेज दिया गया है

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ