मुश्किल में vodafone-idea.Kumar mangalam birla

मुश्किल में vodafone-idea.Kumar mangalam birla

Telecom इंडस्ट्री का हाल इस समय सरकारी रियायतो का मोहताज है रियायत मिल गई तो बम बम और अगर नहीं मिली तो सब खत्म यह बात पद लाती है कि देश के उद्योगपति किस कदर कर्ज में डूबे हुए हैं



kumar mangalam birla यह नाम देश के कुछ ऐसे चुनिंदा लोगों में शामिल है जो अरबों संपत्ति के मालिक हैं उसके बावजूद telecom company vodafone-idea को लेकर एक बयान दिया है delhi में आयोजित एक कार्यक्रम में kumar mangalam birla ने कहा यदि अपेक्षा के अनुसार सरकारी रियायतें नहीं मिलती वह vodafone और idea को बंद कर देंगे

कार्यक्रम में सवाल के जवाब के दौरान birla ने संकेत दिया कि अब birla ग्रुप vodafone और idea में कोई निवेश नहीं करेगा उन्होंने कहा कि अच्छे रुपयों को बुरे रुपयों में निवेश करने का कोई मतलब नहीं है

 सरकारी राहत न मिलने पर कंपनी के कदम पर birla ने कहा कि हम अपनी दुकान बंद कर देंगे उन्होंने कहा कि राहत न मिलने पर कंपनी दिवालिया प्रक्रिया का रास्ता अपनाएगी


Supreem cort की ओर से ए जी आर पर दिए गए फैसले का vodafone-idea पर सबसे ज्यादा असर पड़ा है इसके कारण कंपनी ने दूसरी तिमाही में 50000 करोड़ का घाटा बताया है

रिलायंस jio की लॉन्चिंग के बाद टेलीकॉम sector में बने रहने के 
लिए kumar mangalam birla idea का vodafone के साथ विलय कर दिया था और नई कंपनी vodafone-idea अस्तित्व में आई थी

पिछले साल विलय हुए समझौते के अनुसार vodafone-idea कंपनी में 45.1% हिस्सेदारी वोडाफोन के पास है जबकि 26% हिस्सेदारी आदित्य बिरला ग्रुप के पास है अन्य शेयर होल्डर के पास 28.9% हिस्सेदारी है vodafone-idea का संचालन दोनों कंपनियां संयुक्त रूप से करती है

Kumar mangalam birla के बयान के बाद vodafone-idea के शेयर 9% तक लुढ़क गए


अब सवाल उठता है कि कंपनी बंद होने पर vodafone-idea का क्या होगा और vodafone-idea के ग्राहकों को अपना नंबर चेंज कराना पड़ेगा उम्मीद है कि ऐसी परिस्थिति ना आए

Post a Comment

0 Comments