IMF ने दिया india की Economy पर एक और अलर्ट

IMF ने दिया india की Economy पर एक और अलर्ट

India की Economy और भी डूब रही है!



India में इस वक्त नागरिकता संशोधन कानून और NRC पर बहस जारी है, लोग प्रदर्शन कर रहे हैं पुलिस action ले रही है .सोशल मीडिया में आपस में लोग लड़ रहे हैं

इसी बीच अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष यानी IMF ने कहा है, India की अर्थव्यवस्था (Economy) इस वक्त सुस्ती की दौर पर है भारत को जल्द से जल्द Economy ठीक करने के कदम उठाने चाहिए

IMF ने कहा कि भारत को अपने राजकोषीय घाटे को कम करने के तरफ भी बढ़ते रहना चाहिए, IMF ने अपने सालाना समीक्षा में कहा कि खपत और निवेश में गिरावट है, Tax से होने वाली कमाई में गिरावट है इसलिए india की आर्थिक ग्रोथ को झटका लगा है मौजूदा सुस्ती को दूर करने और फिर से आर्थिक वृद्धि की ओर बढ़ने के लिए india को तुरंत व्यक्तिगत उपायों की जरूरत है

India की Economy growth सितंबर वाले तिमाही में 6 साल मैं सबसे कम थी 4.5 प्रतिशत जानकारों का मानना है कि पूरे साल 2019 -20 ,5% से कम रहने वाली है

IMF की चीफ इकोनॉमिस्ट गीता गोपीनाथ ने कहा कि वित्त वर्ष 2019 -2020 की दिसंबर  और मार्च के महीने में आर्थिक ग्रोथ कम बनी रहेगी हालांकि पिछले कुछ रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि भारत की अर्थव्यवस्था में पिछले कुछ साल में गरीबों लोगों को गरीबी से बाहर निकाला है

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ