Hyderabad encounter पर उठे सवाल, पुलिस पर FIR दर्ज करने की मांग

Hyderabad encounter पर उठे सवाल, पुलिस पर FIR दर्ज करने की मांग

आज सुबह हुई तो टीवी पर देश ने एक बड़ी खबर देखी! Hyderabad में डॉक्टर के साथ गैंग रेप और मर्डर ने पूरे देश को हिला  दिया था आज पता चला कि चारों आरोपी मारे गए



1. Encounter के बारे में पुलिस ने क्या बोला

 तेलंगाना पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की और बताया आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद उन्हें 10 दिन की कस्टडी पर लिया गया था पूछताछ और सबूत जुटाए जा रहे थे पुलिस को dr. के पावर बैंक मोबाइल और घड़ी के बारे में पता चला बरामद वाली जगह पर गए थे सुबह 5:40 में लेकर गए थे जगह वही नेहरू ओ आर प्लाजा से कुछ मीटर दूर जहां डॉक्टर की जली हुई लाश मिली थी यह जगह हैदराबाद के पास नेशनल हाईवे 44 पर है चारों आरोपी इकट्ठा हुए हाथों में हथकड़ी नहीं थी तो वह police पर लकड़ी पत्थर और धारदार वाली चीजों से हमला करने लगे मोहम्मद ने दो पुलिस वालों की हथियार छीन लिए कुछ मिनट क्रॉस फायरिंग हुई जिसमें आरोपी मारे गए 

police बताती है कि 10 पुलिस वाले साथ में गए हुए थे जिसमें एक सब इंस्पेक्टर और एक हवलदार घायल भी हुए बुलेट इंजरी नहीं हुई लेकिन सिर और पैर में चोटें आई हैं police ने कई सवालों के जवाब देने की कोशिश की police नहीं बताया हमने फायरिंग करने से पहले चेतावनी दी थी सरेंडर करने को भी कहा था लेकिन वह नहीं माने police से जब पूछा गया कि गृह मंत्रालय और मानव अधिकार से भी कोई सवाल आए तो पुलिस ने एक साधा सा जवाब दिया हमने अपनी ड्यूटी की और वही करना जरूरी था साथ में साथ पुलिस ने तस्वीरें भी जारी की जिसमें आरोपी हथियारों के साथ नजर आ रहे थे

2.Encounter के बाद Reaction

दो तरह के रिएक्शन आए  एक वह जिन्होंने कहा मनचाही मुराद पूरी हो गई और दूसरे वह  जिन्होंने इन मौतों पर ही सवाल खड़े कर दिए
Police के जिंदाबाद के नारे लगे पुलिस ke ऊपर फूल की बारिश होने लगी police के अफसरों को महिलाओं ने राखियां बांधी जिस जगह अपराध हुआ था उसी जगह आरोपियों को मौत मिली लोगों ने कहा एक चक्र पूरा हो गया है लोगों ने कहा न्याय मिला सेलिब्रिटी ने कहा न्याय हुआ south के बड़े बड़े सितारे justice served jaise
Tweet करने लगे tweeter पर पुलिस को बधाइयां मिलने लगी 

जो इस राय से अलग राय रखते थे उन्होंने इस एनकाउंटर के तरीकों और टाइमिंग पर सवाल उठाए उन्होंने बोला एक भी अपराधी जिंदा क्यों नहीं बचा चारों आरोपी कैसे मारे गए यह फिल्मी कहानी जैसा लगता है



3. नेताओं ने क्या कहा

Encounter के लिए बीते पिछले सालों में उत्तर प्रदेश का नाम खूब उछला है police पर फर्जी एनकाउंटर के आरोप भी लगते रहे हैं लेकिन BSP की अध्यक्ष मायावती ne यूपी पुलिस को तेलंगाना पुलिस से सीख लेने की बात कही
 Bjp कि नेता मेनका गांधी ने बोला कि जो हुआ सही नहीं हुआ हम सब लोगों ने मांग की थी कि इनको मौत की सजा दिया जाए और मौत की सजा इनको जरूर मिलती लेकिन वह जो कानून के नीचे करना चाहिए वही करना चाहिए था यह जो एनकाउंटर है वह बहुत खतरनाक है यह देश के लिए भी बहुत खतरनाक है
Bjp की एक और नेता है मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री रह चुके शिवराज सिंह चौहान उन्होंने इसे जल्दी मिला न्याय कर डाला

असदुद्दीन ओवैसी ने पुलिस कस्टडी में रहे आरोपियों के ऊपर बोला फेयर ट्रायल की बात की और अजमल कसाब का उदाहरण दिया कांग्रेस के नेता शशि थरूर पूरी बात सामने आने की कह रहे उन्होंने कहा न्याय मिलता दिखना चाहिए नेता अपनी बात कह रहे हैं कुछ सवाल उठा रहे हैं तो कुछ खुशी jata रहे हैं अपनी अपनी राय है और अपनी-अपनी समझ है नेता अपने हिसाब से अपनी बात रख रहे हैं

 4.विक्टिम के पिता ने क्या कहा

Hyderabad विक्टिम के पिता ने कहा न्याय नहीं मिला राहत मिल गई इनके मरने से तो हमारी बच्ची लौटकर नहीं आएगी

पुलिस ने कहा कि  मुठभेड़ में चार आरोपियों को मार गिराया गया है लेकिन बात आती है उन नियमों की जिन नियमों में पुलिस को चलना होता है सवाल उठाए जा रहे हैं कि उन सभी नियमों का ठीक तरह से पालन किया गया










एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ