हैदराबाद गैंगरेप: आरोपियों के परिवार वाले एनकाउंटर के बाद ये क्या बोले?

हैदराबाद गैंगरेप: आरोपियों के परिवार वाले एनकाउंटर के बाद ये क्या बोले?

Hyderabad rape  से पहले जो परिवार बेटों को जलाने की बात कह रहे थे ,वे अब क्या बोले?

Hyderabad rape and murder case 6 दिसंबर की सुबह चारों आरोपियों के मौत की खबर आई पुलिस ने बताया कि उनको वारदात वाली जगह पर कुछ चीजों की तलाश के लिए ले जाया गया वहां उन्होंने भागने और पुलिस पर हमला करने की कोशिश की. जवाबी कार्रवाई में आरोपी मारे गए इसको लेकर तमाम लोगों में खुशी है तो कुछ इस encounter को लेकर सवाल उठा रहे हैं



घटना पर आरोपियों के परिवार वाले क्या बोल रहे हैं वह परिवार वाले जो कह रहे थे कि जैसे डॉक्टर को जलाकर मारा गया वैसे हमारे बेटों को भी मार कर जला दिया जाए

आरोपी चिन्ना की पत्नी रेणुका ने कहा-

आरोपी जिन्ना की पत्नी रेणुका ने कहा कि उसे भी वहां ले जाकर गोली मार दो जहां उसके पति को मारा गया उसका कहना है कि वह प्रेग्नेंट है और उसकी 1 साल पहले ही शादी हुई थी

चिन्ना की मां ने कहा-

जिन्ना की मां ने कहा कि उसे कुछ समय देना चाहिए क्योंकि उनसे कहा गया था कि गिरफ्तारी के 14 दिन बाद वह अपने बेटे से मिल सकेंगे पर आठवें दिन ही उसे गोली मार दी गई जिन्ना की मां का कहना है अगर उनको ऊपर से गोली मारने के आदेश मिले थे तो उनको पहले बताना चाहिए था जिससे वह एक बार अपने बेटे से मिल लेती
वह बोली पुलिस वाले उन्हें कुत्ते का खाना खिला देते, जेल में रखते सजा दिलवादे पर उन्होंने तो उसने उसको मार दिया!

 मोहम्मद आरिफ की मां का कहना है कि-

वह अपना बेटा खो चुके हैं वहीं सहारा था, हम गरीब हैं और दिहाड़ी पर मजदूरी करते हैं मीडिया से बात करते हुए उन्होंने आरिफ और उनके दोस्तों को बुरा भला भी कहा

आरोपी नवीन और शिवा के पिता जी ने क्या कहा-

 उन्होंने इस encounter पर सवाल उठाए! उनका कहना है कि उनके बेटों और बाकी आरोपियों को इस तरह क्यों मार दिया गया उन्हें मिलने क्यों नहीं दिया गया दरअसल इन परिवार को आखरी बार उन आरोपियों से ना मिलने की वजह है इसी वजह से उन लोग पुलिस वालों पर सवाल उठा रहे हैं



डॉक्टर के परिवार वालों ने क्या कहा-

पीड़ित डॉक्टर के परिवार वाले खुश हैं परिवार ने पुलिस के इस फैसले का स्वागत किया और खुशी जताई डॉक्टर के पापा का कहना था "मेरी बेटी की मौत को 10 दिन हो गए हैं मैं पुलिस और सरकार का आभार व्यक्त करता हूं अब मेरी बेटी की आत्मा को शांति मिलेगी
डॉक्टर की बहन का कहना था "आरोपियों का एनकाउंटर हो गया है और मैं बहुत खुश हूं मुझे लगता है कि यह एक उदाहरण होगा और अब कोई भी इस तरह का अपराध करने के लिए नहीं सोचेगा. मुझे लगता है कि पुलिस ने रिकॉर्ड टाइम में यह किया है. जिन्होंने भी हमें सपोर्ट किया है मैं उनका धन्यवाद करना चाहती हूं पुलिस ,मीडिया और तेलंगाना सरकार को मैं धन्यवाद करना चाहती हूं जिन्होंने हमें न्याय दिलाने में हमारा साथ दिया

आगे और भी इसी तरह जानकारी के लिए हम आपको बताते रहेंगे धन्यवाद

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ